अंडमान निकोबार: जदयू नेता सत्येंद्र के दौरे से यहां राजनीतिक सरगर्मियां तेज़

अंडमान निकोबार। आने वाले समय मे अंडमान निकोबार द्वीप समूह में जनता दल यूनाइटेड मजबूत स्थिति में हो, इस संभावना से इनकार नही किया जा सकता। जनता दल यूनाइटेड के दिल्ली प्रदेश (व्यावसायिक प्रकोष्ठ) अध्यक्ष सत्येंद्र कुमार का इस दिशा में प्रयास सराहनीय है। सत्येंद्र पार्टी की मजबूती के लिये वहां कई बार दौरा कर चुके हैं और वहां के कार्यकर्ताओं से लगातार संपर्क में है।
हाल में अंडमान निकोबार द्वीप समूह के सात दिवसीय दौरे से लौटने के बाद सत्येंद्र ने ‘पुलिस पोस्ट’ से एक भेंट में कहा कि नीतीश कुमार जी की विचार-धारा का असर वहां साफ दिख रहा है। वहां हमे हर जगह अच्छा जन-समर्थन मिल रहा है और लोग जदयू से जुड़ने को उत्सुक हैं। बहुत लोग जुड़े भी हैं।


सत्येंद्र ने कहा कि जिस तरह वहां स्थानीय लोगों का जदयू के प्रति रुझान देखने को मिला, इससे उम्मीद है कि वहां आसन्न चुनाव में जदयू अच्छी उपस्थिति दर्ज करने में सफल रहेगी। लेकिन इसके लिये अभी हमे ईमानदारी पूर्वक मेहनत करने की जरूरत है।
यात्रा के दौरान सत्येंद्र का पोर्टब्लेयर में जबरदस्त स्वागत हुआ। इस दौरान उनके साथ जदयू नेता कोया जी, सरफुद्दीन जी, आरिफ जी, मुस्तफ़ा जी तथा राजेश जी साथ थे।
पोर्टब्लेयर के बाद सत्येंद्र दो दिवसीय दौरे पर हैवलॉक द्वीप पहुंचे। वहां उन्होंने कई सामाजिक और राजनीतिक साथियों से मुलाकात कर पार्टी की विस्तार नीति पर चर्चा की।
सत्येंद्र के अनुसार वहां के लोगों ने उन्हें स्थानीय लोगों को नौकरी, अस्पताल, 10th के बाद की शिक्षा, पोर्टब्लेयर में स्थानीय लोगों हेतु होस्टल की व्यवस्था, 2004 का सुनामी पैकेज, लोकल सर्टिफिकेट, वर्क परमिट जैसी समस्याओं से अवगत कराया। इस यात्रा के दौरान श्रीमती सागरिका जी के नेतृत्व में विमला खाखा, अनिता कुमारी, नित्यानंद बाला, दीपंकर विश्वास, निमाई सरकार सहित कई गणमान्य लोग उपस्थित थे।
इसके बाद नील द्वीप पर सत्येंद्र का भव्य स्वागत हुआ। लोगो ने उनको समस्याओं से अवगत कराया। नील द्वीप में डॉक्टरों की भारी कमी, खाद, सड़क, स्कूल शिक्षक, खेती में प्रयुक्त कीटनाशक दवाई, हेलिपैड, टिकट की समस्या, csc ( common service centre ), bpl कार्ड, obc सर्टिफिकेट जैसी समस्याओं से अवगत कराया गया। नील द्वीप पर शंकर, श्रीमती विजया, पोशान्तो विशवास, विमन बाला, विशेश्वर विश्वास, धीमन बाला, नारायण दास, असित राय, अनादी राय, कोकण बसु, आनन्दो बाला सहित कई जदयू नेता उपस्थित थे।