दिल्लीः क्राइम ब्रांच के ACP संदीप लांबा की टीम के हत्थे चढ़ा 1 करोड़ 30 लाख की चीटिंग का इनामी आरोपी

नई दिल्ली। एक करोड़ तीस लाख की चीटिंग के एक मामले में न्यायालय द्वारा भगोड़ा घोषित 25 हज़ार के इनामी शातिर अपराधी रविन्द्र सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है। यह कामयाबी मिली है, दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की स्पेशल इन्वेस्टिगेशन यूनिट की टीम को।
मकान नम्बर 61, शिव भक्ति विहार, लाजपतनगर, गाज़ियाबाद, यूपी का रहने वाला यह नटवरलाल इस समय अपनी पहचान छिपाकर मकान नम्बर डी 95, कुमार सिंह नगर, नजफगढ़ रोड, नांगलोई, दिल्ली में रह रहा था।

(गिरफ्तार आरोपी)
इस गुरुघंटाल ने अपने साथियों के सहयोग से ग्वालियर के एक डॉक्टर से एक करोड़ तीस लाख रुपये की चीटिंग की थी, जिस बाबत पीड़ित डॉक्टर ने दिल्ली के पार्लियामेंट स्ट्रीट थाने में मुकदमा दर्ज करा रखा था।
दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच (स्पेशल इन्वेस्टीगेशन यूनिट) के ACP संदीप लांबा के निर्देशन तथा इंस्पेक्टर आशीष दुबे के नेतृत्व में गठित एक विशेष पुलिस टीम ने इसे गिरफ्तार किया है।