दिल्ली: जब देवदूत बने डीपी के दो जवान!

April 17, 2020 deepika 0

नई दिल्ली। कोरोना पर अंकुश के लिये किए गए लॉक डाउन के बीच एक तरफ जहां देश भर की पुलिस लोगों की तरह-तरह से मदद कर रही है। वहीं देश की राजधानी दिल्ली की मंगोलपुरी थाने के दो जवानों ने आउटर रिंग रोड स्थित फ्लाईओवर से कूदकर आत्महत्या करने की कोशिश करने वाले एक युवक की जान बचाई है।
खबर के अनुसार गुरुवार की रात को मंगोलपुरी थाना इलाके के आउटर रिंग रोड स्थित वेस्ट एनक्लेव चौक पर बने एलिवेटेड फ्लाईओवर पर गश्त कर रहे मंगोलपुरी थाने के 2 कॉन्स्टेबल जयप्रकाश और धीरज को एक व्यक्ति के चिल्लाने और रोने की आवाज सुनाई दी, जिसके बाद दोनों ने जब आसपास देखा तो फ्लाईओवर की दीवार से नीचे की तरफ एक व्यक्ति लटका हुआ था। यह देख, दोनों पुलिसकर्मियों ने मुस्तैदी दिखाते हुए बहादुरी के साथ काफी मशक्कत के बाद उस युवक को ऊपर खींच कर आखिरकार उसकी जान बचा ली।
इसी बीच नीचे खड़े लोगों ने यह सारी घटना अपने कैमरे में भी कैद कर ली और इसका वीडियो बना लिया। वही दोनों पुलिसकर्मियों ने अपनी सूझबूझ का परिचय देते हुए वहां से निकल रहे एमसीडी के ट्रक को भी फ्लाईओवर के नीचे लटके हुए युवक के नीचे खड़ा करा दिया ताकि अगर उसको बचाने के दौरान उनका हाथ फिसल भी जाए तो युवक सड़क पर गिरने की वजह उस कूड़े के ट्रक में ही गिरे, ताकि उसकी जान बच जाए।
बचाए गए युवक का नाम हरजीत सिंह है, जोकि दिल्ली के तिलक नगर इलाके का रहने वाला है। बहरहाल मंगोलपुरी थाना पुलिस के दोनों जवानों का यह काम जितना सहासिक है, उससे कहीं ज्यादा प्रशंसनीय भी है। अब ऐसे में दिल्ली पुलिस का एक और मानवीय चेहरा सामने आया है और यह दोनों पुलिसकर्मी आत्महत्या की कोशिश करने वाले युवक के लिए किसी देवदूत से कम नहीं हैं।